अन्तर्राष्ट्रीय वेटरनरी पैथोलॉजी सम्मेलन 2021 राजुवास में कुलपति प्रो. गर्ग ने किया अन्तर्राष्ट्रीय कांग्रेस के फोल्डर का विमोचन

बीकानेर, 01 नवम्बर। इण्डियन एसोसिएशन ऑफ वेटरनरी पैथोलॉजिस्ट की 38वीं अंतर्राष्ट्रीय कांग्रेस “पशुओं, वन्य जीवों एवं पोल्ट्री में उभरती बीमारियों के निदान एवं नियंत्रण हेतु वेटरनरी पैथोलॉजी में प्रगति” विषय पर 17 से 19 दिसम्बर, 2021 को वेटरनरी विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित की जायेगी। कुलपति प्रो. सतीश के. गर्ग ने इस अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन के फोल्डर का विमोचन किया एवं इस अवसर पर कहा कि इस तरह के आयोजनों से वैज्ञानिकों एवं शोधार्थियों को एक मंच पर विषय सम्बंधित जानकारियों के आदान प्रदान का मौका मिलता है जो कि गुणवत्ता युक्त शोध में सहायक सिद्ध होती है। इससे विश्वविद्यालय के शोध व अनुसंधान को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान भी मिलती है। अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन के आयोजन सचिव प्रो. हेमन्त दाधीच ने बताया कि यह सम्मेलन कोविड की गाइडलाईन का पालन करते हुए हाईब्रिड मोड़ पर आयोजित की जायेगी। इस कॉन्फ्रेंस में विषय विशेषज्ञों एवं शोधकर्Ÿााओं द्वारा क्लिनिकल पैथोलॉजी एवं आधुनिक तकनीकों द्वारा रोग निदान, ऑकोजेनेसिस, लेबोरेटरी, वन्य प्राणी एवं पालतु पशुओं में विकृति अध्ययन, टॉक्सिकोलॉजी, पोल्ट्री पैथोलॉजी, कोविड महामारी का पशुओं और मनुष्यों पर प्रभाव, एकल स्वास्थ्य दृृष्टिकोण में पैथोलॉजिस्ट की भूमिका आदि विषयों पर शोध पत्र प्रस्तुत किये जायेंगे। कॉन्फ्रेंस में विभिन्न शोधार्थियों को पैथोलॉजी में उनके शोध एवं शैक्षणिक आकलन के आधार पर युवा वैज्ञानिक पुरस्कार, उत्कृष्ट पोस्टर प्रदर्शन पुरस्कार, बेस्ट स्नातकोत्तर शोध, इण्डियन एसोसिएशन ऑफ वेटरनरी पैथोलॉजी फेलो पुरस्कारों से नवाजा जायेगा। फोल्डर विमोचन कार्यक्रम में कुलसचिव श्री अजीत सिंह राजावत, वित्तनियंत्रक डॉ. प्रताप सिंह पूनिया, अधिष्ठाता प्रो. आर.के. सिंह, अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो. सुभाष गोस्वामी, निदेशक प्रसार शिक्षा प्रो. राजेश कुमार धूड़िया, अधिष्ठाता स्नातकोत्तर अध्ययन प्रो. ए.पी. सिंह, निदेशक क्लिनिक्स प्रो. जे.एस. मेहता, परीक्षा नियंत्रक प्रो. उर्मिला पानू, प्रो. मनीषा माथुर, डॉ. मनीषा मेहरा, डॉ. शेष आसोपा, डॉ. अभिलाषा दाधीच मौजूद रहे।