सूरतगढ़ के 50 पशुपालकों ने राजुवास भ्रमण कर वैज्ञानिक पशुपालन के तरीके जाने

क्रमांक 107                                                                                                                26 सितम्बर, 2018

सूरतगढ़ के 50 पशुपालकों ने राजुवास भ्रमण कर वैज्ञानिक
पशुपालन के तरीके जाने

बीकानेर, 26 सितम्बर। सूरतगढ़ (श्रीगंगानगर) के 50 कृषकों और पशुपालकों के एक दल ने बुधवार को वेटरनरी विश्वविद्यालय पशु विविधिकरण सजीव माॅडल को देखकर पशुपालन से आय बढ़ाने के उपायों की जानकारी ली। सहायक निदेशक (कृषि विस्तार) और आत्मा परियोजना के तहत कृशक यहां पहुँचे हैं। प्रसार षिक्षा के सहायक प्राध्यापक डाॅ. देवी सिंह राजपूत ने मुर्गी, बतख, खरगोष पालन और पालतू पशुओं की विभिन्न नस्लों और उनके आर्थिक महत्च के बारे में विस्तृत जानकारी दी। कृषकों ने तकनीकी म्यूजियम का अवलोकन करके पशुओं की चिकित्सा उपचार और उपयोगी पशुधन उत्पादों की जानकारी ली। वेटरनरी काॅलेज के सर्जरी विभाग के सहायक प्राध्यापक डाॅ. महेन्द्र तंवर ने पशु उपचार कार्यों की जानकारी दी। दल का नेतृत्व सतपाल शर्मा ने किया।

निदेशक