सूचना प्रौद्योगिकी दिवस-2018 : मुख्यमंत्री श्रीमती राजे ने वेटरनरी विश्वविद्यालय को ई-गर्वनेन्स राजस्थान अवार्ड से किया सम्मानित

क्रमांक 2029                                                                                  21 मार्च, 2018

सूचना प्रौद्योगिकी दिवस-2018
मुख्यमंत्री श्रीमती राजे ने वेटरनरी विश्वविद्यालय को ई-गर्वनेन्स राजस्थान अवार्ड से किया सम्मानितः अधिष्ठाता
प्रो. शर्मा ने किया पुरस्कार प्राप्त

बीकानेर, 21 मार्च। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने राजस्थान सूचना प्रौद्योगिकी दिवस 2018 के अवसर पर राजस्थान वेटरनरी विश्वविद्यालय को ई-गर्वनेन्स राजस्थान अवार्ड 2016-17 से सम्मानित किया है। श्रीमती राजे ने जयपुर में बुधवार (21 मार्च) को आयोजित आई.टी.डे. समारोह में वेटरनरी विष्वविद्यालय के संकाय अध्यक्ष एवं अधिष्ठाता प्रो. त्रिुभवन शर्मा को यह पुरस्कार प्रदान किया। राज्य सरकार के सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग द्वारा राजस्थान में संस्थानिक ई-गर्वनेन्स में श्रेष्ठ कार्य करने वाले संस्थान को यह पुरस्कार प्रदान किया जाता है। राज्य सरकार ने राज्य में ई-षासन की सुद्दढ़ता के लिए समर्पण और प्रतिबद्धता के साथ कार्य करने के लिए वेटरनरी विष्वविद्यालय को यह पुरस्कार प्रदान किया है। वेटरनरी विष्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बी.आर. छीपा ने सूचना प्रौद्योगिकी के क्ष्ेात्र में ई-सुषासन के लिए किए गए कार्यों को राज्य में मान्यता मिलने से वेटरनरी विष्वविद्यालय गौरवान्वित हुआ है। इससे विश्वविद्यालय को ओर आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी। वेटरनरी काॅलेज के अधिष्ठाता प्रो. त्रिभुवन शर्मा ने बताया कि वेटरनरी विष्वविद्यालय ने अपने सभी प्रकार के कार्यों को ई-शासन के तहत करने के लिए एकीकृत विश्वविद्यालय प्रबंधन तंत्र की पृथक से स्थापना की। अधिष्ठाता प्रो. शर्मा ने बताया कि यह पुरस्कार राजुवास के समस्त कार्मिकों की मेहनत और लगन का परिणाम है जिससे उन्हें और अधिक ऊर्जा से कार्य करने की क्षमता प्रदान करेगा। राजुवास देश का पहला ऐसा विश्वविद्यालय बना जहां विद्यार्थियों की परीक्षा उत्तर पुस्तिकाओं का आॅन लाइन मूल्यांकन कार्य शुरू किया गया। राजुवास के समस्त कर्मचारियों और विद्यार्थियों के समस्त डाटा के अलग-अलग पोर्टल तैयार किये गए। इससे अध्ययनरत विद्यार्थियों को प्रवेश सूचना और परीक्षा कार्यक्रम तथा उपस्थिति की सूचनाएं आॅन लाइन मुहैय्या करवाई गई है। परीक्षा के फार्म और अंकतालिकाएं भी ई-शासन के तहत मोबाइल पर उपलब्ध हो रही है। इसके लिए विश्वविद्यालय के मुख्य परिसर स्थित सभी विभाग और छात्रावासों को वाई-फाई सुविधा प्रदान की गई है। विश्वविद्यालय कर्मचारियों की संस्थापन सूचनाएं भी पोर्टल द्वारा आॅन लाइन मुहैय्या करवाई गई है। उल्लेखनीय है कि भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा जारी नेशनल इन्स्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क में देश के 789 विश्वविद्यालयों में राजुवास ने 68वीं रैंक हासिल की है।

निदेशक