सरदार पटेल जयंती : कुलपति प्रो. छीपा ने वेटरनरी विश्वविद्यालय में एकता दौड़ को झंडी दिखाकर किया रवाना

क्रमांक 1761                                                                                  31 अक्टूबर, 2017

सरदार पटेल जयंती
कुलपति प्रो. छीपा ने वेटरनरी विश्वविद्यालय में एकता दौड़ को झंडी दिखाकर किया रवाना
एन.सी.सी., एन.एस.एस., फैकल्टी सदस्यों ने लिया राष्ट्रीय एकता का संकल्प

बीकानेर, 31 अक्टूबर। वेटरनरी विश्वविद्यालय में लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती के अवसर पर राष्ट्रीय एकता और अखण्डता के संकल्प के साथ “एकता दौड़“ को कुलपति प्रो. बी.आर. छीपा ने झंडी दिखाकर रवाना किया। राजुवास के मुख्य द्वार से शुरू एकता दौड़ में एन.सी.सी. और राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक छात्र-छात्राओं, अधिकारियों, कर्मचारियों और फैकल्टी सदस्यगण बड़ी संख्या में शामिल हुए। इस अवसर पर अपने सम्बोधन में कुलपति प्रो. छीपा ने कहा कि अंग्रेजों की दासता से मुक्ति के बाद सरदार पटेल ने अपने दृढ़निश्चय, त्याग और सूझबूझ के द्वारा अपनी कुशलता से देशी रियासतों का एकीकरण किया। उन्होंने अखंड भारत और एकता की नई मिसाल कायम की है। वे सदैव हर भारतीय की प्रेरणा के स्त्रोत बने रहेंगे। इस अवसर पर वेटरनरी काॅलेज के अधिष्ठाता प्रो. त्रिभुवन शर्मा ने भी सरदार पटेल के लौह व्यक्तित्व के प्रसंगों का स्मरण किया। एन.सी.सी. के युवा कैडेट्स ने भी सरदार पटेल के योगदान पर अपने विचार रखे। कुलपति प्रो. छीपा के नेतृत्व में शुरू हुई एकता दौड़ में अधिष्ठाता प्रो. त्रिभुवन शर्मा, वित्त नियंत्रक अरविन्द बिश्नोई, एन.सी.सी. के कमान अधिकारी ले. कर्नल अशोक सिंह राठौड़, प्रसार शिक्षा निदेशक प्रो. ए.पी. सिंह, अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो. एस.सी. गोस्वामी, परीक्षा नियंत्रक प्रो. जी.सी. गहलोत, कुलपति के प्रशासनिक सचिव प्रो. बी.एन. श्रृंगी, प्रो. राजीव जोशी शामिल हुए। एकता दौड़ की व्यवस्था में लेफ्टिनेंट डाॅ. राजेश नेहरा, छात्र कल्याण के सहायक अधिष्ठाता डाॅ. अशोक डांगी और अन्य फैकल्टी सदस्यों ने अपना योगदान दिया।

समन्वयक
जनसम्पर्क प्रकोष्ठ