वेटरनरी विश्वविद्यालय : स्वच्छता एक्शन प्लान पर कार्यशाला का आयोजन

वेटरनरी विश्वविद्यालय

स्वच्छता एक्शन प्लान पर कार्यशाला का आयोजन

बीकानेर, 31 जुलाई। वेटरनरी विश्वविद्यालय द्वारा मानव संसाधन विकास विभाग, भारत सरकार की महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद् के संयुक्त तत्वावधान में स्वच्छता एक्शन प्लान पर ऑनलाइन कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला के मुख्य अतिथि वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने कहा कि स्वच्छता एक्शन प्लान में शामिल उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए वेटरनरी विश्वविद्यालय सजग है। राजुवास में जल संरक्षण और सौर ऊर्जा की उपयोगिता के पुख्ता उपाय किए हैं। जैव अपशिष्ट निस्तारण के लिए भी वेटरनरी विश्वविद्यालय में एक इकाई प्रथक से कार्यशील है। कुलपति प्रो. शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि स्वच्छता स्वास्थ्य है और स्वास्थय धन है इसलिए स्वच्छता एक्शन प्लान के अंतर्गत सघन वृक्षारोपण, परिसर और भवनों की स्वच्छता के उपाय पूरी शिद्दत से लागू किए जायेंगे। विश्वविद्यालय के सामाजिक विकास एवं सहभागिता प्रकोष्ठ के नॉडल अधिकारी प्रो. आर.के. धूड़िया ने बताया कि भारत सरकार द्वारा जारी उच्च शिक्षा संस्थानों में स्वच्छता एक्शन प्लान के तहत सभी गतिविधियों को विश्वविद्यालय के तीनों महाविद्यालय बीकानेर, जयपुर व उदयपुर में और अधिक प्रभावी रूप से सुनिश्चित किया जाएगा। इस प्लान के तहत विश्वविद्यालयों के तीनों महाविद्यालयों में हरियाली, जल प्रबंधन, स्वच्छता व ठोस कचरा प्रबंधन, ऊर्जा संरक्षण व सौर ऊर्जा उपयोगिता के सभी पहलुओं को शामिल करते हुए कार्य किया जाएगा। कार्यशाला में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद के अधिकारी पी. सुधीर कुमार ने स्वच्छता एक्शन प्लान के तहत किये जाने वाले कार्यों की रूपरेखा के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए इसकी महत्ता के बारे में बताया। कार्यशाला में वेटरनरी कॉलेज, बीकानेर के अधिष्ठाता प्रो. आर.के. सिंह, स्नातकोत्तर पशुचिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान, जयपुर की अधिष्ठाता प्रो. संजीता शर्मा व वेटरनरी कॉलेज नवानियां (उदयपुर) के अधिष्ठाता प्रो. आर.के. जोशी ने महाविद्यालय में किए जा रहे स्वच्छता कार्यों एवं भविष्य कार्य योजना की जानकारी दी। कार्यशाला में तीनों महाविद्यालयों के स्वच्छता एक्शन प्लान के विभिन्न क्षेत्रों के प्रभारियों ने भी हिस्सा लिया।