वेटरनरी विश्वविद्यालय में वर्चुअल कक्षाएं प्रारंभ ऑनलाईन वर्चुअल कक्षा में शिक्षक और विद्यार्थी घर से कर रहे है अध्ययन और अध्यापन का कार्य

क्रमांक 01                                                                                                  9 अप्रैल 2020

वेटरनरी विश्वविद्यालय में वर्चुअल कक्षाएं प्रारंभ
ऑननलाईन वर्चुअल कक्षा में शिक्षक और विद्यार्थी घर से कर रहे है अध्ययन और अध्यापन का कार्य

बीकानेर, 9 अप्रैल। कोरोना महामारी में लाॅक डाउन के कारण वेटरनरी विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों और शिक्षकों की वर्चुअल क्लास रूम स्थापित कर अध्ययन-अध्यापन कार्य सुचारू से प्रारंभ कर दिया गया है। वेटरनरी विश्वविद्यालय के तीनो संघटक महाविद्यालय, बीकानेर, जयपुर और नवानियां (उदयपुर) के शिक्षक लगातार वर्चुअल कक्षाएं ले रहे हैं। आॅनलाईन वर्चुअल कक्षा में शिक्षक और विद्यार्थी कहीं भी रहकर आपसी संवाद से अध्ययन और अध्यापन का कार्य और अपनी शंकाओं का समाधान प्राप्त कर रहे है। वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने बताया कि कोरोना महामारी के चलते लाॅक डाउन में वेटरनरी विश्वविद्यालय में सूचना प्रौद्योगिकी के सभी आॅनलाईन माध्यमों का उपयोग करके विद्यार्थियों को आॅनलाईन अध्ययन और पाठ्य सामग्री उपलब्ध करवाई जा रही है। वेटरनरी विद्यार्थियों को अध्ययन कार्य में सेल्फ सर्विस पोर्टल, कक्षावार व्हाट्स ऐप ग्रुप और मोबाईल एप्स की सुविधा से जोड़ा गया है।
कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने बताया कि विश्वविद्यालय के एकीकृत विश्वविद्यालय प्रबंधन प्रणाली के द्वारा सभी विद्यार्थियों को सेल्फ सर्विस पोर्टल सुविधा दी गई है जिसके माध्यम से विद्यार्थी ई-बुक्स, पाठ्य योजना, आदर्श प्रश्न पत्र और पाठ्य सामग्री देख सकते है। इसी के माध्यम से व्याख्याताओं के रिकाॅर्डेड व्याख्यान आॅन लाईन उपलब्ध है। आॅनलाईन अध्ययन के दूसरे चरण में सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों के व्हाट्स ऐप ग्रुप बनाये गये है। इन ग्रुप्स में विषय अध्यापक और काॅलेज डीन भी शामिल है। इस समूह के विद्यार्थियों को पावर पाईन्ट प्रजेन्टेशन, पीडीएफ फाॅरमेट में नोट्स विद्यार्थियों को नियमित रूप से उपलब्ध करवाये जा रहे है। इसके अलावा नवाचार के रूप में विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय द्वारा ही विकसित मोबाईल एप “एम-राजुवास“ से जोड़ा गया है। इस मोबाइल एप के द्वारा सभी पाठ्यक्रमों की अध्ययन सामग्री भी उपलब्ध करवायी जा रही है। इस प्रकार लाॅक डाउन के समय में विद्यार्थियों का नियमित मार्ग दर्शन किया जा रहा है। गौरतलब है कि विश्वविद्यालय की सूचना प्रौद्योगिकी क्षमता एवं नवाचारों को देखते हुए राज्य का ई-गवर्नेन्स अवाॅर्ड भी इस वर्ष वेटरनरी विश्वविद्यालय को प्रदान किया गया है।

समन्वयक
जनसम्पर्क प्रकोष्ठ