वेटरनरी विश्वविद्यालय में कायशाला : पशुचिकित्सा के क्षेत्र में विविध कार्यों और सेवाओं की अपार संभावनाएं मौजूद: कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा

क्रमांक 317                                                                                                              19 नवम्बर, 2019

वेटरनरी विश्वविद्यालय में कायशाला
पशुचिकित्सा के क्षेत्र में विविध कार्यों और सेवाओं की
अपार संभावनाएं मौजूद: कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा

बीकानेर, 19 नवम्बर। वेटरनरी विश्वविद्यालय के प्लैसमेंट सैल द्वारा मंगलवार को “वेटरनरी क्षेत्र में रोजगार के अवसर“ विषय पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने कहा कि वेटरनरी स्नातकों के लिए देश और दुनिया में रोजगार की विपुल संभावनाएं और बेहतरीन अवसर मौजूद हैं। राजकीय क्षेत्र में पशुपालन और पशुचिकित्सा सेवाओं के साथ साथ काॅरपोरेट सेक्टर, विपणन और निजी संस्थानों में आकर्शक सेवाओं के अनेक अवसर हैं। इसके अलावा अखिल भारतीय सेवाओं, अर्द्ध सैनिक बलों, निजी क्षेत्र में पशुपालन तकनीकी सेवाओं में भी बड़ी संख्या में विद्यार्थी जा रहे हैं। प्रतिस्पद्र्वा के युग में दृढ़ इच्छा षक्ति के साथ विषय में पांरगत, मुखर व्यक्तित्व और प्रभावी संप्रेषण में कुषलता से खास मुकाम हासिल किया जा सकता है। खाद्य सुरक्षा, पशु प्रोटीन-वसा, शुद्व खाद्य मानकों के लिए औद्योगिक इकाइयों में पशु चिकित्सकों की मांग बढ़ती जा रही है। इसके अलावा पशुधन उत्पाद, मूल्य संवर्द्धन उत्पादों के उद्योग, शैक्षणिक और अनुसंधान के क्षेत्र में पशु स्नातकों के कार्य करने की अपार सम्भावनाएं है। स्वंय की प्रेक्टिस और सेवा उद्यम स्थापित करके भी रोजगार शुरू किया जा सकता है। कार्यशाला में मार्स इण्डिया की विपणन विकास प्रबंधक डाॅ. ष्वेता सिंह ने पषुपालन से जुडे़ उद्योगों, कम्पनियों व फर्मों में पशु चिकित्सकों की सेवाओं व प्राइवेट सेक्टर में इनकी महत्ता तथा श्वानों के पोषण की आवष्यकता पर व्याख्यान दिया। उन्होंने पशुपोषण के क्षेत्र आ रहे बदलावों और पशुओं की पोषण व पाचन जरूरतों की जानकारी दी। उन्होंने विदेशों में प्लैसमेंट की स्थिति और मांग के बारे में बताया। विश्वविद्यालय के प्लैसमेंट आॅफिसर प्रो. सुनील मेहरचंदानी ने प्रारंभ में कार्यशाला के उद्दश्यों की जानकारी दी। प्रसार षिक्षा निदेषक प्रो. ए.ए. गौरी ने सभी का आभार जताया। कार्यषाला में वेटरनरी विष्वविद्यालय कुलपति के विषेषाधिकारी प्रो. आर.के. धूड़िया, सहायक प्लैसमेंट अधिकारी डाॅ. राजेश नेहरा भी शामिल हुए। कार्यशाला में स्नातक अंतिम वर्ष और इन्र्टनशिप विद्यार्थियों ने बड़ी संख्या में शिरकत की।

सह-समन्वयक
जनसम्पर्क प्रकोष्ठ