वेटरनरी विश्वविद्यालय द्वारा वन्य जीवों के बचाव तथा देखभाल विषय पर ई-सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम 27 से

वेटरनरी विश्वविद्यालय द्वारा
वन्य जीवों के बचाव तथा देखभाल विषय पर
ई-सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम 27 से

बीकानेर, 25 अगस्त। वेटरनरी विश्वविद्यालय द्वारा वन्यजीवों की बचाव तथा देखभाल विषय पर पशुचिकित्सकों, जीव वैज्ञानिकों और वन कर्मियों की सुरक्षा के विषय पर तीन दिवसीय ई-सर्टिफिकेट पाठ्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने बताया कि सतत शिक्षा के ऑनलाइन सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम अत्यंत उपयोगी सिद्ध हो रहे हैं। इससे वन्यजीवों के बचाव और उनके राहत के उपायों में तेजी लाई जा सकेगी। राजुवास के मानव संसाधन विकास निदेशक प्रो. ए.के. कटारिया ने बताया कि 27 अगस्त को वन्य पशुओं कीे जैविक विशेषताओं पर भारतीय वन सेवा के संग्राम सिंह कटियार प्रमुख वक्ता होंगे। 28 अगस्त को भारतीय वन्यजीव नियमों और उनके विधिक मामलों पर सियोल नेशनल यूनिवर्सिटी, कोरिया के डॉ. पुनीत पांडे अतिथि वक्ता के रूप में शामिल होंगे। 29 अगस्त को वन्यजीवों के बचाव अभियान और उनकी देखभाल की विभिन्न तकनीकों व संसाधनों के बारे में पशुपालन विभाग के वरिष्ठ पशुचिकित्सा अधिकारी डॉ. श्रवण सिंह राठौड़ अतिथि वक्ता के रूप में शामिल होेंगे। पाठ्यक्रम के समन्वयक डॉ. हेमन्त जोशी ने बताया कि तीनों ही दिन वार्ताओं का समय सायं 6 बजे से 7ः30 बजे तक रहेगा। इच्छुक प्रतिभागी ऑनलाइन पंजीकरण करवा कर पाठ्यक्रम में शामिल हो सकते हैं।