वेटरनरी विश्वविद्यालय द्वारा द्वितीय वर्ष पशुपालन डिप्लोमा परीक्षा-2018 का परिणाम घोषित

क्रमांक 121                                                                                                           18 अक्टूबर, 2018

वेटरनरी विश्वविद्यालय द्वारा द्वितीय वर्ष पशुपालन डिप्लोमा परीक्षा-2018 का परिणाम घोषित

बीकानेर, 18 अक्टूबर। वेटरनरी विश्वविद्यालय द्वारा ए.एच.डी.पी परीक्षा 2018 के द्वितीय वर्ष का परिणाम शुक्रवार को घोषित कर दिया गया। छात्रों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति ने राजुवास के परीक्षा नियंत्रक को राज्य में होने वाली पशुधन सहायक भर्ती परीक्षा से पूर्व ही डिप्लोमा परीक्षा-2018 का परिणाम घोषित करने के लिए निर्देशित किया गया था अतः विश्वविद्यालय द्वारा अथक प्रयासों से द्वितीय परीक्षा-2018 परिणाम 20 दिन की अल्प अवधि में ही घोषित कर दिया गया है। राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड, जयपुर द्वारा आयोजित होने वाली पशुधन सहायक परीक्षा के 2077 पदों की भर्ती के लिए लिखित परीक्षा का आयोजन 21 अक्टूबर, 2018 को किया जाना है। इस परीक्षा में पात्रता द्विवर्षीय पशुपालन डिप्लोमा है। उŸाीर्ण अभ्यर्थी इस परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने राजुवास परीक्षा नियंत्रक कार्यालय के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारियों को अल्प समय मंे शीघ्र परिणाम घोषित करने के लिए बधाई पे्रषित की है। राजुवास के परीक्षा नियंत्रक प्रो. जी.सी. गहलोत ने बताया कि ए.एच.डी.पी द्वितीय वर्ष परीक्षा में इस बार 3248 परीक्षार्थी शामिल हुए। परीक्षा परिणाम 98.43 प्रतिशत रहा है। इस परीक्षा की वरीयता सूची में उक्त परीक्षा परिणाम विश्वविद्यालय की वेबसाईट www.rajuvas.org पर उपलब्ध है। डिप्लोमा परीक्षा की वरीयता सूची में राजकीय पशुपालन प्रशिक्षण संस्थान जोधपुर की कु. सरोज ने पहला और कु. सना ने दूसरा स्थान हासिल किया है। ए.एच.डी.पी. उदयपुर के देवेन्द्र कुमार शर्मा ने तीसरा, स्वामी विवेकानंद वेटरनरी संस्थान, सीकर की कु. अंकिता भाकर ने चैथा और पोदार पशुपालन डिप्लोमा संस्थान अलवर की कु. रीतू बोला के पांचवां स्थान प्राप्त किया है।

निदेशक