विश्व पर्यावरण दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

क्रमांक 26                                                                                                                05 जून 2018

विश्व पर्यावरण दिवस
वेटरनरी काॅलेज में प्लास्टिक पोल्यूशन पर पोस्टर प्रतियोगिता हुई

बीकानेर, 5 जून। विश्व पर्यावरण दिवस पर मंगलवार को वेटरनरी काॅलेज में पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। “बीट प्लास्टिक पोल्यूशन” विषय पर महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के 32 स्वंयसेवकों ने पोस्टर बनाकर प्लास्टिक पोल्यशन के खतरों और बचाव के उपायों पर रंगों और तूलिका से संदेश उकेरा। एन.एस.एस. के प्रभारी अधिकारी डाॅ नीरज शर्मा ने पर्यावरण के महत्व और डाॅ. देवीसिंह राजपूत ने प्लास्टिक से होने वाले नुकसान के बारे में विस्तृत जानकारी दी। महाविद्यालय के प्रसार शिक्षा विभाग के डाॅ. पंकज मिश्रा, डाॅ. कमलश धवल और डाॅ नरेन्द्र सिंह नें अपनी सहभागिता निभाई।

पी.जी.आई.वी.ई.आर., जयपुर में विश्व पर्यावरण दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

जयपुर, 05 जून। स्नातकोत्तर पशुचिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (पी.जी.आई.वी.ई.आर.), जयपुर में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर मंगलवार को विभिन्न कार्यक्रमों का अयोजन किया गया। संस्थान के अधिष्ठाता प्रो. (डाॅ.) विष्णु शर्मा ने विश्व पर्यावरण दिवस के इस वर्ष के थीम “Beat the Plastic Pollution” विषय पर चर्चा करते हुए प्लास्टिक से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे मेंविस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्लास्टिक नन-बायोडिग्रेडेबल होता है तथा उपयोग के पष्चात् रीसायकल नहीं होने पर जल, भूमि, वायु आदि को प्रदूषित करता है। प्लास्टिक की थैलियों में खाद्य प्रदार्थ उपयोग करने से कैन्सर का खतरा बढ़ जाता है। बचा हुआ खाना प्लास्टिक की थैलियों में फैंकने से पषु इसको खाने के साथ खा जाता है जो उसके पेट में एकत्रित होकर विभिन्न रोगांे का कारण बनता है। मनुष्यों की विभिन्न गतिविधियों से पर्यावरण को हो रही हानि तथा मानव जीवन पर इसके दुष्प्रभावों के बारे में उन्होंने विस्तारपूर्वक चर्चा की। उन्होंने प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने तथा लोगों को इसके प्रति जागरूक करने के लिये सभ्ब् को शपथ दिलाई। सहायक अधिष्ठता छात्र कल्याण डाॅ. वाई.पी. सिंह ने पर्यावरण संरक्षण के महत्व एवं विभिन्न उपायों के बारे में जानकारी प्रदान की। विद्यार्थियों ने भी प्लास्टिक के उपयोग से पर्यावरण को होने वाले हानि तथा इसके उपयोग को कम करने के विभिन्न तरीकों के बारे में अपने विचार व्यक्त किये। इस अवसर पर प्लास्टिक से जानवरों में हो रहे दुष्प्रभावों पर एक लघु फिल्म का प्रदर्षन किया गया। तत्पष्चात् विद्यार्थियों तथा संकाय सदस्यों ने संस्थान के विभिन्न भागो में सफाई अभियान चलाकर कूड़ा तथा प्लास्टिक एकत्रित किये। कार्यक्रम का आयोजन सहायक अधिष्ठाता छात्र कल्याण डाॅ. वाई.पी. सिंह तथा एन.एस.एस. प्रभारी डाॅ. अषोक बैंदा की अगुवाई में किया गया।

निदेशक