विश्व पर्यावरण दिवस पर राजुवास में गोष्ठी व वृक्षारोपण: पारंपरिक जीवन शैली और प्रकृति के न्यायसंगत दोहन से ही पर्यावरण संरक्षण संभव।