विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने वेटरनरी विश्वविद्यालय, बीकानेर को 12-बी में मान्यता प्रदान की: राजुवास में खुशी की लहर व्याप्त

क्रमांक 111                                                                                    01 अक्टूबर, 2018

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने वेटरनरी विश्वविद्यालय, बीकानेर को 12-बी में मान्यता
प्रदान की: राजुवास में खुशी की लहर व्याप्त

बीकानेर, 01 अक्टूबर। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने वेटरनरी विश्वविद्यालय, बीकानेर को यू.जी.सी. 12-बी एक्ट में मान्यता प्रदान कर दी है। इससे राजुवास में खुषी व्याप्त हो गई। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के 4 सदस्यीय निरीक्षण दल ने गत 3 व 4 अगस्त, 2018 को दो दिन तक राजुवास के विभिन्न विभागों, इकाइयों और कार्यालयों की कार्यप्रणाली, उपलब्ध सुविधाओं, स्टाॅफ की स्थिति के साथ ही शिक्षण व्यवस्था, छात्रों को सुविधाएं और अनुसंधान परियोजनाओं, प्रसार गतिविधियों, नई तकनीकों, डिजीटल तकनीकी जैसे मानकों के आधार पर विश्वविद्यालय को 12-बी में मान्यता का आंकलन किया था। यू.जी.सी. निरीक्षण दल में शामिल प्रो. एन.सी. पटेल, प्रो. पी.डी. जुयाल, प्रो. जी.के. सिंह और सदस्य सचिव ममता आर. अग्रवाल की कमेटी ने इस विश्वविद्यालय को 12-बी में सम्मिलित करने हेतु सर्वसम्मति से अनुमोदन कर दिया। वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने विश्वविद्यालय को 12-बी में मान्यता मिलने पर खुषी जताते हुए कहा कि इससे राजुवास में विभिन्न संसाधनों, शैक्षणिक सुविधाओं और परियोजनाओं के लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग से विŸाीय सहायता का मिलना सुनिश्चित हो जाएगा और शौक्षिक गुणवŸाा में बढोतरी हो सकेगी। प्रो. शर्मा ने बताया कि 12-बी में मान्यता से देश के शीर्ष विश्वविद्यालयों में राजुवास अपना स्थान बना पाएगा और आम पशुपालक और किसानों के हित में आवश्यक शोध और षिक्षा प्रसार की योजनाओं को अधिक प्रभावी तरीके से लागू करने में मदद मिल सकेगी। इस अवसर पर कुलपति शर्मा ने राजुवास के कुलसचिव प्रो. हेमन्त दाधीच, संकाय अध्यक्ष प्रो. त्रिभुवन शर्मा और अन्य सभी संकाय सदस्यों के प्रयत्नों की सराहना की।

निदशक