राज्यपाल ने गोद लिए गांव डाइयां बना स्मार्ट विलेज अब जयमलसर बनेगा गांव में हुए विकास कार्य, मूलभूत सुविधाएं बढ़ी

क्रमांक 61                                                                                                                                  31 जुलाई, 2018

राज्यपाल ने गोद लिए गांव डाइयां बना स्मार्ट
विलेज अब जयमलसर बनेगा
गांव में हुए विकास कार्य, मूलभूत सुविधाएं बढ़ी

बीकानेर, 31 जुलाई। राज्यपाल एवं कुलाधिपति कल्याण सिंह ने विश्वविद्यालयों के माध्यम से पिछड़े गांवों को गोद लेकर विकास कराने की योजना के अन्र्तगत राजस्थान पशुचिकित्सा एवं पशु विज्ञान विष्वविद्यालय के माध्यम से गोद लिए गए गांव डाइयां का नक्षा बदल गया है। इस गांव के निधारित विकास कार्य पूरे होने के बाद अब जयमलसर गांव को गोद लिया गया है। मिशन अन्त्योदय योजना के तहत जयमलसर को स्मार्ट माॅडल विलेज बनाया जाएगा। इसके लिए राज्यपाल की ओर से चैक लिस्ट भी जारी की गई। इस लिस्ट पर राज्यपाल के सचिव ने विश्वविद्यालय के अधिकारियों के साथ वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग भी की है। डाइयां में हुए कार्यः गोद लिए गांव के नोडल अधिकारी राजुवास के अधिष्ठाता एवं संकाय अध्यक्ष प्रो. त्रिभुवन शर्मा ने बताया कि गांव में सूचना केन्द्र की स्थापना कर ग्रामीणों को पुस्तकालय-वाचनालय सेवाएं मुहैय्या करवाई गई हैं। गांव के मध्य में स्थापित इस केन्द्र में ई-कियोस्क और कम्प्यूटर मय इंटरनेट सेवाओं से गांव दश-दुनिया से जुड़कर आधुनिकता की दौड़ में शामिल हो गया। गंाव के एक मात्र राजकीय प्राथमिक विद्यालय को सौर ऊर्जा से जोड़कर विद्युतीकरण किया गया, जिससे पंखे, बल्ब, पानी के कुंड को पंप से जोड़कर पेयजल सुविधा प्रदान की गई। गंाव में एक नए तालाब का निर्माण कर वर्षा जल संरक्षण का महत्ती कार्य किया गया है। पशुपालन विभाग के सौजन्य से पशुपालकों के हित में पशु उप स्वास्थ्य केन्द्र खुलवाकर स्थाई रूप से पशुपालन सेवाएं प्रदान की गई हैं। ग्राम पंचायत के सहयोग से गांव की गलियों में सड़क निर्माण कर पक्की नालियों का निर्माण करवाया गया। राजुवास द्वारा विभिन्न विभागों के समन्वय से चिकित्सा, पशुपालन, रोजगार, शिक्षा, वृक्षारोपण, स्वच्छता के शिविरों का आयोजन कर ग्रामीणों को लाभान्वित किया गया। जयमलसर में होंगे ये कार्यः- गांव के प्रभारी अधिकारी डाॅ. नीरज कुमार शर्मा ने बताया कि जयमलसर गांव के सरपंच के साथ चर्चा के बाद गांव को स्मार्ट बनाने के लिए बनाई गई कार्य योजना को आगामी ग्राम सभा में पारित करवाकर कार्य शुरू किये जायेंगे। जयमलसर गांव में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ पौधे भी लगाए गए। अब जयमलसर में सामाजिक विकास एवं संरक्षण, स्वास्थ्य, महिला एवं बाल विकास, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, शिक्षा, कौशल विकास, कृषि, पर्यटन, खेल, सम्पर्क सड़क, शुद्ध पेयजल, सौर ऊर्जा जैसे कार्य होंगे।

निदेशक