राजुवास मे अंतर्राष्ट्रीय हैप्पीनेस-डे मनाया

अंतर्राष्ट्रीय हैप्पीनेस-डे मनाया

अन्तर्राष्ट्रीय हैप्पीनेस-डे शनिवार को वेटरनरी विश्वविद्यालय में डीन-डॉयरेक्टर्स और फैकल्टी सदस्यों ने मनाया। संयुक्त राष्ट्रसंघ द्वारा प्रत्येक वर्ष 20 मार्च को हैप्पीनेस-डे घोषित किया गया है। इस अवसर पर तीनों संघटक महाविद्यालयों की फैकल्टी को ऑनलाइन सम्बोधन में वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने कहा कि आपसी प्रेमभाव, दूसरों का सम्मान, कार्य के प्रति ईमानदारी व समन्वय रखते हुए जीवन में खुलापन खुशी का कारण बनते हैं। उन्होंने कहा कि पशु चिकित्सा संकाय में पशुओं और पशुपालकों का कल्याण और विद्यार्थियों का हित चिंतन हमारे गौरव और खुशी के दो पहलू हैं। हमें राजुवास को एक परिवार की तरह मानकर प्रगतिशील बनना होगा। कुलपति प्रो. शर्मा ने कहा कि हम किसी भी पद पर कार्य करते हुए अपने कर्यत्वों का निर्वहन एक खुशीनुमा माहौल में करके सुखद परिणाम हासिल कर सकते हैं। उन्होंने फैकल्टी सदस्यों का आह्वान किया कि वे अध्ययन-अध्यापन के साथ-साथ पाठयेात्तर प्रवृतियों को भी शामिल करके खुशनुमा माहौल बना सकते हैं। राजुवास के वित्त नियंत्रक अरविंद बिश्नोई ने भी खुशनुमा माहौल में चहुंमुखी विकास के भाव को इंगित किया। वेटरनरी कॉलेज के अधिष्ठाता प्रो. आर.के. सिंह ने इस अवसर पर विचार व्यक्त किए। बैठक में पी.जी.आई.वी.ई.आर की अधिष्ठाता प्रो. संजीता शर्मा, वेटरनरी कॉलेज नवानियां (उदयपुर) के अधिष्ठाता प्रो. राजीव कुमार जोशी, निदेशक मानव संसाधन विकास प्रो. त्रिभुवन शर्मा, निदेशक अनुसंधान प्रो. हेमन्त दाधीच, निदेशक प्रसार शिक्षा प्रो. आर.के. धूड़िया, निदेशक पी.एम.ई. प्रो. अन्जु चाहर, निदेशक क्लिनिक्स प्रो. ए.पी.सिंह, अधिष्ठाता स्नातकोत्तर अध्ययन प्रो. सुनीता रानी, परीक्षा नियंत्रक प्रो. उर्मिला पानू , प्रो. बी.एन. श्रृंगी सहित विश्वविद्यालय के अधिकारी शामिल हुए।