राजुवास की रिमोट सेसिंग में विशेष उपलब्धि वेटरनरी विश्वविद्यालय बना इसरो का नेटवर्क सेंटर

राजुवास की रिमोट सेसिंग में विशेष उपलब्धि
वेटरनरी विश्वविद्यालय बना इसरो का नेटवर्क सेंटर

बीकानेर, 31 अक्टूबर। वेटरनरी विश्वविद्यालय का पशुविज्ञान में अंतरिक्ष आधारित प्रोद्योगिकी उपयोग तकनीकी केंद्र अब आई.आई.आर.एस.-इसरो द्वारा विद्यार्थियों, फैकल्टी और शोधकर्ताओं को ऑनलाइन पाठ्यक्रम उपलब्ध कराएगा। कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने बताया की इसरो के भारतीय रिमोट सेसिंग संस्थान ने राजुवास के इस केन्द्र को नेटवर्क सेन्टर बनाने की मंजूरी प्रदान कर दी है। इस सेंटर द्वारा लाइव एवं इंटरएक्टिव सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम करवाए जाएंगे जो की निःशुल्क होंगे। यह ऑनलाइन पाठ्यक्रम भारतीय रिमोट सेसिंग संस्थान द्वारा 2डी और 3डी एनीमेशन वीडियो व प्रैक्टिकल प्रदर्शन कर आयोजित किये जायेगे। कुलपति प्रो. शर्मा ने बताया की आई.आई.आर.एस.-इसरों का नेटवर्क सेन्टर बनना विश्वविद्यालय के लिए विशेष उपलब्धि है, इससे पशुविज्ञान में रिमोट सेसिंग तकनीको को बढावा मिलेगा। इस प्रकार के ऑनलाइन कोर्स विद्यार्थियों व शोधकर्ताओं के प्रोफेशनल कैरियर में महत्वपूर्ण साबित होंगे। केन्द्र की मुख्य अन्वेषक डॉ. तारा बोथरा ने बताया केन्द्र का मुख्य उद्देश्य अंतरिक्ष प्रोद्योगिकी को विकसित कर इसका उपयोग पशुधन क्षेत्र में सुधार एवं बेहतर प्रबन्धन के लिए करना है।