भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा देश के विश्वविद्यालयों की रैकिंग में राजुवास फिर शीर्ष पर राज्य के कृषि विश्वविद्यालयों में राजुवास प्रथम स्थान पर

क्रमांक 001                                                                                                                                             4 अप्रैल, 2018

भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा देश
के विश्वविद्यालयों की रैकिंग में राजुवास फिर शीर्ष पर
राज्य के कृषि विश्वविद्यालयों में राजुवास प्रथम स्थान पर

बीकानेर 4 अप्रैल। भारत सरकार के मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा राजस्थान वेटरनरी विश्वविद्यालय को विश्वविद्यालयों की इन्डिया रैंकिंग 2018 में देश में शीर्ष और राजस्थान राज्य में कृषि विष्वविद्यालयों की रैंकिंग में प्रथम स्थान बनाया है। भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा की गई रैंकिंग में इस बार वेटरनरी विश्वविद्यालय को देष के 3954 संस्थानों/विश्वविद्यालयों में से 150 में अपनी जगह बनाई है। गत वर्ष की रैंकिंग में यह विश्वविद्यालय 68वें स्थान पर रहा था। मंगलवार को मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा सर्वे के लिए निर्धारित विस्तृत पेरामीटर के आधार पर राजुवास ने शीर्षस्थ स्थान हासिल किया है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग से देश में कुल 792 मान्य विश्वविद्यालय शामिल हैं। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने देश के उच्च शिक्षण संस्थानों के लिए निर्धारित केटेगरी में प्रदर्शन आधार पर की गई रैंकिंग में राजस्थान राज्य के सभी 25 राजकीय विश्वविद्यालयों और 42 निजी विश्वविद्यालयों की रैंकिंग में वेटरनरी विश्वविद्यालय प्रथम पांच में शामिल रहा है। वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बी.आर. छीपा ने बताया कि इस सर्वे के अनुसार देश के पशुचिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालयों की रैंकिंग में भी राजस्थान वेटरनरी विश्वविद्यालय प्रथम पांच में रहा है। राजुवास को देश के कृषि विश्वविद्यालयों की रैंकिंग में पहले 5 स्थान पर रहने का गौरव प्राप्त हुआ है। भारत सरकार के तत्वावधान में की गई इस रंैकिंग में देश की विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों से 4 मानदण्डों के आधार पर एकत्रित आंकडों के आधार पर इसकी घोषणा मंगलवार को नई दिल्ली में केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर द्वारा की गई है। कुलपति प्रो. छीपा ने टीम राजुवास की मेहनत, लगन और निष्ठा के कारण मिली इस उपलब्धि के लिए उन्हें बधाई दी है।

निदेशक