पशुपालकों को घर बैठे ही मार्गदर्शन और सुझाव राजुवास कुलपति द्वारा वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग समीक्षा

क्रमांक 03                                                                            15 अप्रेल, 2020

पशुपालकों को घर बैठे ही मार्गदर्शन और सुझाव
राजुवास कुलपति द्वारा वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग समीक्षा

बीकानेर, 15 अप्रेल। वेटरनरी विश्वविद्यालय के डीन-डाॅयरेक्टर और अधिकारियों की वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग बैठक कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में कोरोना वायरस प्रकोप के मद्देनजर ‘लाॅकडाउन‘ की स्थिति में आॅनलाइन विद्यार्थियों की कक्षाओं का संचालन और महाविद्यालयों में पशुओं की आपात क्लिनिकल सेवा कार्यों की समीक्षा की गई। कुलपति प्रो. शर्मा ने बताया की सभी कक्षाओं के पाठ्यक्रम की आॅनलाइन अध्ययन प्राध्यापकों द्वारा करवाया जा रहा है। इसके लिए विषयवार टाईम-टेबल बनाकर कक्षाएं सुचारू रूप से चल रही है। इससे लाॅकडाउन की समाप्ति पर परीक्षाएं समय पर आयोजित करके शैक्षणिक सत्र भी निर्धारित समय से प्रारंभ हो सकेगा। विद्यार्थियों को अपने घर बैठे चालू कक्षाओं के प्रति खासा उत्साह है और वे इसका पूरा लाभ उठा रहे हैं। कुलपति प्रो. शर्मा ने बीकानेर, जयपुर और नवानियां (उदयपुर) के महाविद्यालयों में पशुओं की विषेशज्ञ क्लिनिकल सेवा कार्यों की समीक्षा की और बताया कि तीनों स्थानों पर आपात पषुचिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। इससे संम्बधित जिले के पशुपालकों को लाभ मिल रहा है। वेटरनरी विष्वविद्यालय द्वारा राज्य के 14 जिलों में स्थित पषुचिकित्सा विष्वविद्यालय प्रषिक्षण एवं अनुसंधान केन्द्रों द्वारा प्रत्येक जिले के किसान पषुपालकों के “व्हाट्स एप्प” समूह बनाकर मोबाइल के द्वारा जोड़े गए हैं। पशुपालकों को घर बैठे ही मार्गदर्शन और सुझाव वेटरनरी विश्वविद्यालय के प्रशिक्षण केंद्रों द्वारा व्हाट्सएप समूह के माध्यम से उपलब्ध दिए जा रहे हैं। कोरोना वायरस प्रकोप के मद्देनजर ‘लाॅकडाउन‘ की स्थिति में सामाजिक दूरी को अपनाते हुए पशुपालन का कार्य करने की सलाह व्हाट्सएप समूह के माध्यम से उपलब्ध कराई जा रही है। कुलपति प्रो. शर्मा ने बताया कि लाॅकडाउन अवधि में उन्नत पशुपालन के लिए किसानों और पशुपालकों के लिए होने वाले प्रशिक्षण कार्यक्रमों को डिजीटल प्लेटफाॅर्म पर शुरू किया जाना प्रस्तावित है। वीडियो काॅन्फ्रेस बैठक में विश्वविद्यालय के कुलसचिव अजीत सिंह राजावत, विŸानियंत्रक अरविंद बिश्नोई सहित डीन-डाॅयरेक्टर और अधिकारी उपस्थित थे।

समन्वयक
जनसम्पर्क प्रकोष्ठ