पशुचिकित्सा शिक्षा पर प्रदर्शनी और जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

पशुचिकित्सा शिक्षा पर प्रदर्शनी और जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

नवानियां, 05 मार्च। पशुचिकित्सा एवं पशु विज्ञान महाविद्यालय, नवानियां के प्रसार शिक्षा विभाग द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, नवानियां के वार्षिकोत्सव कार्यक्रम के अवसर पर पशुचिकित्सा शिक्षा पर प्रदर्शनी और जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस वार्षिकोत्सव कार्यक्रम में महाविद्यालय अधिष्ठाता प्रो. (डॉ.) आर.के. जोशी ने मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत करते हुए विद्यालय के सभी शिक्षकगणों और विधार्थियों को वार्षिकोत्सव की बधाई दी। उन्होनें अपने उदबोधन में कहा कि मेवाड़ की धरा पर स्थित यह एक मात्र पशुचिकित्सा महाविद्यालय है जो कि हम सभी के लिए गर्व का विषय है, जिसका आप लोगों को ज्यादा से ज्यादा फायदा लेना चाहिए। उन्होनें बताया कि महाविद्यालय द्वारा आयोजित पशुचिकित्सा शिक्षा जागरूकता कार्यक्रम का उद्देश्य विद्यालय में अध्ययनरत विधार्थियों को पशुचिकित्सा शिक्षा की उपयोगिता बताना एवं इस क्षेत्र को अपना करियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करना हैं। उन्होंने बताया कि आपके विद्यालय में विज्ञान संकाय का खुलना बहुत ही गौरव की बात है जो किसी भी मेडिकल प्रोफेशन में जाने कि प्रथम सीढ़ी है, अब विधार्थी विज्ञान संकाय लेकर पशु चिकित्सक या पशुधन सहायक के रूप में अपना भविष्य साकार कर सकते हैं। उन्होंने विधार्थियों को कहा कि आप अपना लक्ष्य निर्धारित और निरंतर मेहनत करके अपने मुकाम तक पहुंच सकते हैं। विशिष्ठ अतिथि और महाविद्यालय के अकादमिक समन्वयक प्रो. (डॉ.) एस.के. शर्मा ने विधार्थियों को वेटरनरी अंडर ग्रैजुएट कोर्स तथा डिप्लोमा प्रोग्राम में एडमिशन प्रक्रिया के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने बच्चों को मोटिवेट करते हुए कहा कि एक बार सोच विकसित होगी तो निसंदेह जीत आपकी होगी l इस अवसर पर आयोजित प्रदर्शनी और जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन महाविद्यालय के प्रसार शिक्षा विभाग प्रभारी डॉ. टीकम गोयल के दिशा-निर्देशन में किया गया। इस अवसर पर विधालय के प्रधानाचार्य और शिक्षकगण सहित नवानियां और भीण्डर गांव के संरपच, उप संरपच, प्रधान आदि गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।