नए भारत के निर्माण में युवाओं की संकल्प शक्ति जरूरी: कुलपति प्रो. छीपा

क्रमांक 1817                                                                            21 दिसम्बर, 2017

राजुवास में ‘‘संकल्प से सिद्धि‘‘ का चैथा युवा संवाद संपन्न
नए भारत के निर्माण में युवाओं की संकल्प
शक्ति जरूरी: कुलपति प्रो. छीपा

बीकानेर, 21 दिसम्बर। माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नए भारत के निर्माण के लिए संकल्प से सिद्धि के तहत चैथा युवा संवाद कार्यक्रम गुरूवार को वेटरनरी विश्वविद्यालय में आयोजित किया गया। सुमंगल जन कल्याण ट्रस्ट के नेतृत्व में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बी.आर. छीपा ने कहा कि 1942 में भारत छोड़ो आंदोलन में देश के युवाओं ने आजादी का संकल्प लेकर अपने प्राणों का उत्सर्ग किया। युवा शक्ति में देश की दशा और दिशा बदलने की ताकत है। माननीय प्रधानमंत्री के आह्वान पर सन 2022 तक नए भारत के निर्माण का संकल्प लेकर देश को आगे ले जाना है। समारोह की अध्यक्षता करते हुए वेटरनरी काॅलेज के अधिष्ठाता प्रो. त्रिभुवन शर्मा ने कहा कि युवा संवाद आत्म मंथन का कार्यक्रम है। सर्वाधिक युवा आबादी वाले भारत को 2022 तक एक नए और सुखद परिवर्तन के लिए युवाओं की श्रम शक्ति और विद्वता का पूरा उपयोग करना है। युवा संवाद के संयोजक श्री सुरेन्द्र सिंह शेखावत ने विषय प्रवर्तन करते हुए कहा कि देश में जातीय और धार्मिक उन्माद के कारण युवा दिशा-भ्रमित हो रहे हैं। देश में 70 वर्षों बाद प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश में 9 अगस्त, 2017 से “संकल्प से सिद्धि“ अभियान शुरू किया है। देश के युवाओं को देशभक्ति और राष्ट्रनिर्माण के संकल्प के साथ गंदगी और गरीबी मुक्त समाज की स्थापना तथा भ्रष्टाचार आतंकवाद, जातिवाद और सम्प्रदायवाद को जड़ से मुक्त करना है।
कार्यक्रम में युवा वक्ता डाॅ. चक्रवर्ती नारायण श्रीमाली ने कहा कि व्यक्तिगत हितों से ऊपर समाज और राष्ट्र का हित साधने का संकल्प लेकर चलने वाले लोग ही इतिहास के हस्ताक्षर बनते हैं। उन्होंने युवाओं को अपने में निहित अन्र्तशक्ति की पहचान कर परिवर्तन का संवाहक बनने का आह्वान किया। जिंदगी में नये आयाम स्थापित करने के लिए युवाओं को दृढ़ इच्छा शक्ति के साथ अवसर का पूरा उपयोग करते हुए आलोचना से दूर रहकर आगे बढने के लिए सचेष्ट रहना होगा। भाजपा युवा मोर्चे के जिलाध्यक्ष श्री विक्रमसिंह भाटी ने स्वागत भाषण किया। समारोह में राजुवास छात्रसंघ के महासचिव चन्द्रपालसिंह भी मंचासीन थे। वेटरनरी काॅलेज छात्रसंघ के अध्यक्ष सुनिल जांगीड़ ने सभी का आभार जताया। कार्यक्रम मे वेटरनरी विश्वविद्यालय के डीन, डायरेक्टर, फैकल्टी सदस्यों और छात्र-छात्राओं ने बड़ी संख्या में शिकरत की।

निदेशक