आयुर्वेट के महानिदेशक डाॅ. वाष्र्णेय का राजुवास दौरा आपसी सहयोग पर किया विचार-विमर्श

क्रमांक 1893                                                                               28 फरवरी, 2018

आयुर्वेट के महानिदेशक डाॅ. वाष्र्णेय का राजुवास दौरा
आपसी सहयोग पर किया विचार-विमर्श

बीकानेर, 28 फरवरी। आयुर्वेट रिसर्च फाउन्डेशन के महानिदेशक और पंडित दीनदयाल उपाध्याय पशुचिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय, मथुरा के पूर्व कुलपति डाॅ. ए.सी. वाष्र्णेय ने बुधवार को कुलपति प्रो. बी.आर. छीपा से मुलाकात कर राजुवास में पशुचिकित्सा सेवाओं का जायजा लिया। कुलपति प्रो. छीपा ने डाॅ. वाष्र्णेय के राजुवास आगमन पर उनको शाॅल ओढ़ाकर सम्मानित किया। उन्होंने राजुवास के कुलसचिव प्रो. हेमन्त दाधीच, वेटरनरी काॅलेज के अधिष्ठाता प्रो. त्रिभुवन शर्मा, अनुसंधान निदेषक प्रो. आर.के. सिंह, प्रसार शिक्षा निदेशक प्रो. ए.पी. सिंह, छात्र कल्याण अधिष्ठाता प्रो. एस.सी. गोस्वामी से अनौपचारिक रूप से मुलाकात कर अनुसंधान और प्रसार शिक्षा कार्यक्रमों की जानकारी ली। डाॅ. वाष्र्णेय ने कुलपति प्रो. छीपा को आयुर्वेट प्रा.लिमिटेड और राजुवास के आपसी सहयोग और अनुसंधान परियोजनाओं को शुरू करने पर भी विचार-विमर्ष किया। डाॅ. वाष्र्णेय ने काॅलेज के सर्जरी विभाग, और पशुओं की सी.टी. स्केन मशीन, मेडिसिन विभाग में पशु उपचार की सेवाओं का जायजा लिया।

निदेशक